रैम और रोम क्या है पूरी जानकारी - Pure Gyan

आज Technology का जमाना है हर किसी के पास स्मार्ट फ़ोन है पर अभी तक बहुत से लोगो को ये नही पता होता कि रैम और रोम क्या है-(What is Ram & Rom and its Working) RAM क्या होती है और ROM क्या होती है ये किसी प्रकार काम करती है हमारे फ़ोन के लिए क्या जरूरी होती है रैम या ROM और हमारा फ़ोन के हैंग होने का क्या कारण होता है
What is Ram and Rom in hindi

RAM (रैम) क्या होती है और यह किस प्रकार काम करती है रैम कितने प्रकार की होती है क्या मोबाइल और कंप्यूटर की रैम एक जैसी होती है इन सब सवाल के जवाब आज आपको मिलने वाले है तो जाने के लिए इस पोस्ट को  ध्यान से पड़े।

What is Ram and Rom in hindi


रैम क्या होती है – RAM Kya Hoti hai
रैम का पूरा नाम Random Access Memory होता है यह तभी काम करती है जब हमारा मोबाइल या कंप्यूटर ऑन होता है या काम कर रहा होता है मोबाइल/कंप्यूटर के बंद हो जाने पर रैम का सारा डाटा मिट जाता है
अगर दूसरे शब्दों में कहा जाए तो जब भी आप कोई एप्लीकेशन डाउनलोड करते हैं तो वह है आपकी इंटरनल मेमोरी में सेव होती है परंतु जब आप उस एप्लीकेशन को यूज करते हैं तो वह रैम में Run होती है
Ram का साइज Rom की अपेक्षा बहुत कम होता है परंतु रैम की स्पीड Rom की स्पीड से बहुत ज्यादा होती है इसलिए ऐसे भी बोला जाता है कि जितनी अधिक आपके फोन की रैम होगी उतना ही फास्ट आपका फोन काम करेगा

What is Ram and Rom in hindi


रोम क्या होती है- ROM Kya Hoti Hai

Rom का पूरा नाम Read Only Memory होता है यह कंप्यूटर की प्राइमरी मेमोरी होती है यह डाटा को परमानेंट सेव रखती है कंप्यूटर द्वारा जो भी इंफॉर्मेशन इस्तेमाल की जाती है वह इस मेमोरी से ही ली जाती है यह मेमोरी रैम से अधिक होती है इस मेमोरी में हमारे द्वारा जो भी Application,Music, Data, File, Game आदि डाउनलोड किए जाते हैं वह इसी मेमोरी में सेव होते हैं
अगर दूसरे शब्दों में बताया जाए तो हम जो भी एप्लीकेशंस,म्यूजिक, डाटा,गेम,पीडीएफ फाइल  डाउनलोड करते हैं तो वह परमानेंटली हमारी प्राइमरी मेमोरी Rom में सेव हो जाता है और जब हमारा मोबाइल या कंप्यूटर को कोई इंफॉर्मेशन चाहिए होती है तो वह Rom से Ram में आ जाती है और वह इंफॉर्मेशन जैसे गेम, म्यूजिक,और सभी एप्प्स रैम मैं काम करते है
कुल मिला कर रैमऔर ROM दोनों ही किसी मोबाइल या कंप्यूटर का एक अहम हिस्सा होता है तो अगली बार जब भी आप कभी मोबाइल या कंप्यूटर खरीदने जाते हैं तो इस बात का ध्यान जरूर रखें कि आपके फोन/कंप्यूटर मैं आपको कितनी RAM और ROM चाहिए हैं उसी हिसाब से आप मोबाइल/कंप्यूटर खरीदे।

Rom और Ram में क्या अंतर है

– RAM का पूरा नाम Random Access Memory  है जबकि ROM का पूरा नाम Read Only Memory है

– ROM में हमारे मोबाइल का सारा डाटा सेव होता है जब भी हम कोई वीडियो,फोटो,डॉक्यूमेंट,ऑडियो,म्यूजिक और जो भी कोई एप्पलीकेशन डाउनलोड करते हैं और इंस्टॉल करते हैं वह ROM में ही होती है ROM को(Internal Memory) इंटरनल मेमोरी भी कहते हैं जबकि रैम में वही डाटा काम करता है जो मोबाइल में RUNING में होता है और मोबाइल की पावर ऑफ़ होते ही सारा डाटा मिट जाता है।

– रैम की स्पीड़ बहुत ज्यादा होती है ROM से

– रैम की कॉस्ट भी कही ज्यादा मिलती है ROM के मुकाबले

– ROM का काम डाटा को सेव रखने का होता है और रैम का काम तेजी से इन्फॉर्मेशन को CPU तक पहुचना होता है

Phone hang kyu hota hai hindi

फ़ोन हैंग क्यो होता है -Phone hang kyo hota hai

जब आपका फोन बंद होता है तब आपका सारा ROM यानी इंटरनल मेमोरी में सेव रहता है जब आप अपने फोन को ऑन करते हैं तो फोन कि रैम में पावर आती है वह काम करने लगती है और सारा डाटा रैम में आ जाता है अगर आपके फोन की RAM कम होती है तो 4 से 5 ऐप चलाने से ही आपके रैम का स्पेस पूरी तरह से भर जाता है

जब आप कोई और एप्पलीकेशन चलाते हैं तो रैम को उसका स्पेस बनाने के लिए किसी एक ऐप को वापस ROM यानी इंटरनल मेमोरी में भेजना पड़ता है जब रैम यह प्रोसेस(PROCESS) करती है तो इस प्रोसेस के दौरान आपका फोन हैंग हो जाता है इसलिए यह बोला जाता है कि फोन में ज्यादा RAM होगी तो फोन हैंग नहीं होगा।

उम्मीद करता हूं दोस्तों आप समझ गए  होंगे कि रैम और रोम  क्या होती है (What is RAM & ROM AND HOW ITS WORKS)और यह किस प्रकार काम करती है हम उम्मीद करते है की आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और इसे आपको जरूर मद्त मिली होगी तो अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आता है तो उसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और आप कोई सवाल है तो हमे कमेंट करें

इसे अपने साथी ब्लॉगर के साथ शेयर करना न भूलें, Sharing Button पोस्ट के निचे है.

 
Keep Sharing, Because Sharing is Caring 🙂


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां